100+ Dard Bhari Shayari In Hindi | Shayari Dard Bhari (दर्द भरी शायरी हिन्दी)

दोस्तों आप सभी लोगो को Dard Bhari Shayari In Hindi में मिल जाएगी जो मुझे उम्मीद है की आप को Shayari Dard Bhari (दर्द भरी शायरी हिन्दी) में मिल जाएगी जिन्हें आप बहुत ही ज्यादा पसंद करेगे और में आप को बता दू की dard bhari shayari image भी आप को यहाँ पर मिल जाते है जिन्हें आप देख सकते है और दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है

Dard Bhari Shayari
लोग मिला करते हे ज़िंदगी मे दिल को दर्द देने के लिए, वो भी आए थे दिल की कहानी सुनने के लिए, वो हवाओ की तरह रुख़ बदलते रहे, हम तक़दीर से लड़ते रहे जिनको पाने के लिए.

उनकी तस्वीर को सीने से लगा लेते हैं, इश्स तरह जुदाई का घाम मिटा लेते हैं. किसी तरह ज़िकार हो जाए उनका, तो हंसस कर भीगी पलकें झुका लेतेहैं.

मिटा सके जो दर्द तेरा वो शब्द कहाँ से लाऊँ… चूका सकूं एहसान तेरा वो प्राण कहाँ से लाऊँ… खेद हुआ है आज मुझे लेख से क्या होने वाला… लिख सकूं मैं भाग्य तेरा वो हाथ कहाँ से लाऊँ… देखा जो हालत ये तेरा छलनी हुआ कलेजा मेरा…

हमने आंसु को बहोत संजोया के तन्हाई मे आया करो, भारी महफ़िल मे हमारा मज़ाक ना उड़ाया करो, इस बात पर आंसु ने तड़प कर कहा, महफ़िल मे आपको तन्हा आप को पाते हे, इस लिए हम चले आते हे.

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

जब भी करीब आता हूँ बताने के किये; जिंदगी दूर रखती हैं सताने के लिये! महफ़िलों की शान न समझना मुझे; मैं तो अक्सर हँसता हूँ गम छुपाने के लिये!

जिनकी हसरत थी उनका प्यार ना मिला, जिनका बरसो इंतेज़ार किया उनका साथ ना मिला, अजीब खेल होते हे ये मोहब्बत के, किसी को हम ना मिले और कोई हमे ना मिला.

Dard Bhari Shayari In Hindi
इश्क़ का तेरी एक यही तो सिला हे, याद तुझे करके मेरा दिल भी जला हे. तेरी यादो को हम कैसे भुला दे, सब कुछ हारकर एक यही तो मिला हे.

किसी के दिल का दर्द किसने देखा है; देखा है, तो सिर्फ चेहरा देखा है; दर्द तो तन्हाई मे होता है; लेकिन तन्हाइयो मे लोगों ने हमे हँसते हुए देखा है!,

दर्द से अब हम खेलना सीख गए;​ ​हम बेवफाई के साथ जीना सीख गए;​ ​ क्या बताएं किस कदर दिल टूटा है मेरा​;​ ​मौत से पहले, कफ़न ​ओढ़ कर सोना सीख गए।

दिल को उसकी हसरत से खफ्फा कैसे करू, अपने रब को भूल जाने की ख़ाता कैसे करू, लहू बनकर राग राग मे बस गया है वो लहू को इस जिस्म से ज़ुदा कैसे करू.

अपनी ज़िंदगी से कुछ पल दे दे मुझे, आज ना सही तू अपना कल दे दे मुझे, खुशी दे या ना दे मर्ज़ी तेरी, अपना दुख और दर्द तू चल दे दे मुझे.

पास आकर दूर चले जाते हो, हम अकेले हे और अकेले ही रह जाते हे. दिल का दर्द कहे भी तो कैसे कहे, हमारे अपने ही हमे ज़ख्म देके चले जातें हे.

वक़्त के मोड़ पे ये कैसा वक़्त आया है, ज़ख़्म दिल का ज़ुबान पर आया है, ना रोते थे कभी काटो की चुभन से, पर आज ना जाने क्यों फूलों की खुश्बू से रोना आया है.

Dard Bhari Shayari

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

ज़िंदगी से वफ़ा हमने भी की हैं बहोत पर गमों के सिवा और कुछ मिला भी तो नही, एक तुझको पाकर बहुत खुश था मैं , पर साथ तेरा मंज़िल तक मिला भी तो नही

हर गम सहा तेरे प्यार के खातिर, हर दीवार तोड़ी तेरे दीदार के खातिर, हर उमीद मिटा दी तुम्हे पाने की खातिर, और तुमने दिल तोड़ दिया ज़माने के खातिर.

Dard bhari shayari hindi
निकलके उन्ही के दिल से हम महफ़िल मे आ बैठे हे, हमारी मुश्किल ये हे की बड़ी मुश्किल मे आ गये हे, लड़खड़ाने लगे हे पैर उनकी बेवफ़ाई की चोट से, पर लोग कहेते हे पी के सारी महफ़िल मे आ गये हे.

क्या मजबूरी हे उनकी, जो हम से इतना दूर रहते है, हम उनको बूहात चहाते है, पर वो हम से क्यो नही कहते है, क्यो हम से इतना दूर-दूर रहते है ..

इश्कवाले आँखो से आँखो की बात समज़ लेते है, सपने मे मिल जाए तो मुलाकात समज़ लेते है, रोता तो आसमान भी है अपनी धरती के लिए, और लोग उनके आंसु को बरसात समज़ लेते है.

इश्क़ का तेरी एक यही तो सिला हे, याद तुझे करके मेरा दिल भी जला हे. तेरी यादो को हम कैसे भुला दे, सब कुछ हारकर एक यही तो मिला हे.

दगा देकर भी हंसते रहते हैं ऐसे चेहरों के अब तो मौसम आए आजकल प्यार सरेआम बरसता है हमारे पास धोखे खाकर कितने आए

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

ना होता दर्द तो ये आंसू की कीमत ना होती, अगर ना होती मोहब्बत इस दुनिया मे, तो ज़िंगगी जीने की चाहत ना होती, और ना बंद आँखो को सपनो की आदत होती.

प्यार में आँखों तो दिल कि जुबां होती हे, पर सच्चा प्यार तो सदा बेजुबान होता हे, प्यार में दर्द भी मिले तो कोई परवाह नहीं करते, सुना हे दर्द से चाहत और भी जवान होती हे.(दर्द भरी शायरी हिन्दी)

ना होता दर्द तो ये आंशु की कीमत ना होती, अगर ना होती मोहब्बत इस दुनिया मे, तो ज़िंगगी जीने की चाहत ना होती, और ना बंद आँखो को सपनो की आदत होती.

मेरी मोहब्बत में कभी दर्द नहीं था, पर दिल मेरा कभी बर्बाद नहीं था, होती रही मेरी आँखों से आंशु के बरसात, पर उनके लिए आँशु और पानी में फर्क नहीं था.

Dard bhari bewafa shayari
खुदा से थोडा रहेंम खरीद लेते, आपके ज़ख्मो का मरहम खरीद लेते, अगर कभी बिकती खुशिया मेरी, तो सारी बेचकर आपका गम खरीद लेते.

इस दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दू, मोहब्बत का उनको पैगाम क्या दू, इस दिल मे दर्द नही यादे हे उनकी, अगर यादे मूज़े दर्द दे तो इल्ज़ाम क्या दू.

याद मे हमारी आप भी खोए होंगे, खुली आँखो मे कभी आप भी सोए होंगे, माना की हसना है अदा गम छुपाने की, पर हस्ते-हस्ते कभी आप भी रोए होंगे.

एक बार फिर अपने दर्द को हसी मे छुपा रहे हे, खुश हे ये तन्हाई मे ये भी सबको बता रहे हे. ना जाने क्यू ये आँखे हर वक़्त बेवफा हो जाती हे, जो की हर आँसू मे उनकी यादे जाता रही हे.

क्या मालूम था के इश्क़ करके दिल तोड़ जाएगी, दिल मे प्यार जगा के मूह मोड़ जाएगी, ओ बेवफा तू जब भी किसी से दिल लगाएगी, तो कभी भी चैन की साँसे नही ले पाएगी.

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

मोहब्बत का मेरे सफर आख़िरी है, ये कागज, कलम ये गजल आख़िरी है मैं फिर ना मिलूंगी कहीं ढूंढ लेना तेरे दर्द का ये असर आख़िरी है(Dard Bhari Shayari)

नही ज़िंदगी मिली हमे ना वफ़ा मिली हमे, हर खुशी हमसे खफा मिली. झूठी मुस्कान लिए अपने दर्द छुपाए हे, सच्चा इश्क़ करने की भी क्या खूब सज़ा मिली.

लोग मिला करते हे ज़िंदगी मे दिल को दर्द देने के लिए, वो भी आए थे दिल की कहानी सुनने के लिए, वो हवा ओ की तरह रुख़ बदलते रहे, हम तक़दीर से लड़ते रहे जिनको पाने के लिए.

नाराज़ होने से पहेले खता बता देना, आँसू निकालने से पहेले हसना सीखा देना, अगर ज़िंदगी मे दूर जाना हे तो, पहेले बिना साँस लिए जीना सीखा देना.

दर्द भरी शायरी हिन्दी में
आपकी एक आवाज़ सुन ने को तरसता हे दिल, हर पल जुदाई मे तड़प्ता हे दिल, ना जाने कब नज़र के सामने आएगे वो, इस उम्मीद पे हर पल धड़कता हे दिल.

समजते थे हम उनकी हर एक बात को, वो हर बार हमसे धोका देते थे, पर हम भी वक़्त के हातो मजबूर थे, जो हर बार उनको मौका देते थे.

तूफान दर्द का चला तो सवार जाऊंगा , मे तेरी जुल्फ नही जो यू बिखर जाऊंगा , यहा से उड़ूँगा तो ये ना पूछो के कहा जाऊंगा , मे तो दरिया हू दोस्तो समुंदर मे समा जाऊंगा .

तुम्हारी यादो के टुकड़े चुनकर, गुज़रे लम्हो की एक तस्वीर बना लू. मेरी हर एक खुशी तुम्हारे नाम लिख कर, तुम्हारे दर्द की अपनी तक़दीर बना लू.

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

वो बहोत रोई और कहती रही के नफ़रत हे तुमसे, लकिन एक सवाल आभी भी दर्द बनकर बना हे, के अगर मुजसे नफ़रत हे थी तो, वो इतना रोई क्यू?

तेरे शेर, तेरी दीवानगी का पता देते हैं कैसे कह दे कोई क तुम उससे अच्छे नही लगते करता नही जो क़द्र ऐसी पाक मोहब्बत की ऐसे दिल तोड़ने वाले मुझे अच्छे नही लगते

होठो की बात ये आँसू कहते है. चुप रहते है फिर भी बहते है. इन आँसुओ की किस्मत तो देखिए ये उनके लिए बहते है जो दिल मे रहते है

खुश्बू हूँ, बिखरने से ना रोके कोई और बिखर जाओं तो मुझको ना समेटे कोई काँप उठती हूँ में ये सोच के तन्हाई में मेरे चेहरे पे तेरा नाम ना पढ़ ले कोई

New Dard bhari shayari
मोहब्बत के भी कुछ राज़ होते है, जगती आँखों मे भी खाव्ब होते है. ज़रूरी नही है गम मे ही आँसू आए. मुस्कुराती आँखो मे भी सैलाब होते है.

मत कर मेरे दोस्त हसीनो से मोहब्बत वो आँखो से वार करती हैं मैने इन्ही आँखो से देखा है की वो कितनो स प्यार करती हैं

खुदा ने लिखा ही नही उसको मेरी किस्मत मे शायद वरना खोया तो बहुत कुछ था मेने उससे पाने के लिए..!!!

खाए है लाखो धोखे, एक धोखा और से लेंगे. तू लेजा अपनी डोली को, हम अपनी अर्थी को बारात कह लेंगे..

खिले गुलाब का मुरझाना बुरा लगता है , मोहब्बत का यूँ मर जाना बुरा लगता है … फ़ासले मिटाना अच्छी बात है , पर किसी और का उनके नज़दीक जाना बुरा लगता है.

sad shayari

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

Dard Bhari Shayari
दिल जब टूटता है तो आवाज़ नही आती, हर किसी को दोस्ती रास नही आती, यह तो अपने अपने नसीब की बात है, कोई भूलता ही नही और किसी को याद ही नही आती.

कच्चे धागे सा इक झटके मे टूट जाए, ऐसा दिल मुझे मिला है. उस पर हर गहरा दर्द भी मुझे अपनो से मिला है. जब-जब बनाना चाहा है किसी को अपना, तोहफे मे बक्शी गयी मुझे बस जुदाई और रुसवाई है. क्या हुआ जो आज फिर संग मेरे तन्हाई है.

ऐसे दीवानेपन का इलाज़ कोई करे तो करे कैसे, डूब के दर्द के समुंदर मे कोई प्यार करे कैसे l जिसके किस्मत मे सिवाए घूम के कुछ भी नही है, तुम्हारे लिए खुशियों का महल खड़ा करे कैसे l

shayari dard bhari
कभी दर्द इसने दिया कभी दर्द उसने दिया, ज़ख़्मों को मगर किसी ने भी सीने नही दिया, आज फरिश्ता कहते हैं सभी मेरे यार मुझको, मगर इंसानो की तरह कभी जीने नही दिया .

उसे गलियों मे, चौबारों मे पागलों की तरहा ढूंढता रहा ना मिली मुझे कहीं, जाने कहाँ छिपती छिपाती रही मैं दीवाना उसको याद करके , उससे दूर बस तड़प्ता रहा वो दूर कहीं बैठ के मेरा दर्द देख बस मुस्कुराती रही.

दर्द का एहसास ना रहा गम था जो , कुच्छ ख़ास ना रहा हम भी किसी से मिलने को तड़प जाएँगे मालूम ना था. हम भी मुहब्बत कर जाएँगे मालूम ना था.. …

लोग तो अपना बनाके छोड़ देते है कितनी आसानी से गैरो से रिश्ता जोड़ लेते है , हम तो एक फूल तक न तोड़ सके कुछ लोग बेरहमी से दिल तोड़ देते है (दर्द भरी शायरी हिन्दी)

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

प्यार और बारिश- दोनो एक जैसे होते है, वो हमेशा यादगार होते है, फ़र्क सिर्फ़ इतना है की बारिश साथ रह कर तन भिगाती है, और प्यार दूर रहकर आँखे

मोहब्बत का तो यही दस्तूर होता है, हर एक ज़ख़्म बंन कर नसूर होता है.. जो डूबते है इश्क़ मे उन्हे मिलता है सिर्फ़ दर्द. रोते है वो हर वक़्त,मगर रोने से ना दर्द दूर होता है….

ये आँसू भी एक अजीब परेशानी है खुशी और गुम दोनो की निशानी है अपनो के लिए बहुत अनमोल है ये ना समजने वालो के लिए पानी है

गीली आँखों से उनके मैं थोड़ा पानी लाया हूँ धड़कते दिल से उनके साँसों की रवानी लाया हूँ और लाया हूँ कुछ एहसास उन आँखों से चुरा के सुनाने महफ़िल में मोहब्बत की कहानी लाया हूँ

Dard bhari shayari hindi me
तुमको छुपा रखा है इन पलको मैं, पर इन को यह बताना नही आया, सोते मैं भीग जाती है पलके मेरी, पलकों को अभी तक दर्द छुपाना नही आया

गहरी थी रात, लेकिन हम खोए नही, दर्द बहूत था दिल में, लेकिन हम रोए नही, कोई नही हमारा जो पूछे हमसे, जग रहे हो किसी के लिए, या किसी के लिए सोए ही नही..!!

वफ़ा के वादे वो सारे भुला गयी चुप चाप, वो मेरे दिल की दीवारें हिला गयी चुप चाप .

शायद इस दिल को आराम मिले अब मैं सिर्फ़ यही सोच के आया हूँ मेरे टूटे दिल के टुकड़ों को, मैं हाथों में उठा के लाया हूँ .

Dard Bhari Shayari

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

मुझे दफनाने से पहले मेरा दिल निकाल कर उसे दे देना मैं नही चाहता के वो खेलना छोङ दे !! हजारों चहरो मे तेरी मोहब्बत मिली मुझको पर दिल की जिद थी की तू नही तो तुझ जैसा भी कोई नही

कहते है प्यार की सचाई दर्द है, मायूसी है इस दर्द मे जिया, तो सच मे जिया, ज़िंदगी मे कुछ किया.

दिल का दर्द आँखों से बायन होता है ज़रूरी नही के हर ज़ख़्म का निशान होता है

खाए हैं बहुत धोखे हुमने, बहाएँ हैं बहुत आँसू हुमने, दर्द का रिश्ता कुछ ऐसा है हमसें , की दर्द को सीने से लगाया हुमने .

तुम रहो आँखों के सामने तो गीत कोई अधूरा रहता नही, जज़्बात बहते रहते हैं और तुम खुद ग़ज़ल बन जाती हो, लोग कहते है की मोहब्बत मे सिर्फ़ दर्द ही मिल पाता है, सच तो है की तुम मेरे हर दर्द की दावा बन जाती हो.

बंधीशो में, उस तड़पति हुई आत्मा का क्या कसूर ? दिल्लगी की एस दिल ने तो, एन आँसूऊ का क्या कसूर?

Dard bhari shayari image
खुशियो से नाराज़ है मेरी ज़िंदगी, प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िंदगी, हंस लेता हू लोगो को दिखाने के लिए, वरना दर्द की किताब है मेरी ज़िंदगी

देखा पलट के उस ने चाहत उसे भी थी… दुनिया से मेरी तरहा शिकायत उसे भी थी… वो रोए थे मुझे परेशान देख कर… उस दिन पता चला मेरी ज़रूरत उसे भी थी…

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

अब तेरे बिना अकेले रहने को जी करता है खामोशी से दर्द पीने को जी करता है

कहानी दर्द की हम ज़िंदगी से क्या कहते, ये दर्द उसने दिए हैं उसी से क्या कहते

आएँगे वो ज़रूर ये सोचकर इंतज़ार करता हू मे, ना आए अगर वो तो ख़यालोमे ही मिल लेता हू मे, मुस्कुराए वो तो खुश होता हू मे, दर्द ज़रसा भी हो उसे तो रोता हू मे,

सब कुछ अपना लूटा ते रहे तेरी चाहत में, ज़िंदा हैं तुझ पे ये दिल लुटाने के बाद भी. समंदर ए तन्हाई में डूबा ही रह गया मैं, प्यार में तुम से दिल लगाने के बाद भी.

*❣😔❣मेरी तमन्ना न थी, तेरे बगैर रहने की लेकिन,*❣😔❣ *❣😔❣मजबूर को, मजबूर की, मजबूरीयां, मजबूर कर देती है !!*❣😔❣

Dard bhari dosti shayari
निगाहें मिल जाती हे तो इश्क़ हो जाता हे, पलखे उठे तो इज़हार हो जाता हे, ना जाने क्या नशा हे मोहब्बत में, के कोई अनजान भी ज़िन्दगी का हक़दार बन जाता हे.

रुक रुक के उनके साथ हमें एक चाहत सी हो गयी, बात करते करते हमें उनकी आदत सी हो गयी, उनसे मिल ने के लिए एक बैचनी सी रहती हे, न जाने दोस्ती निभाते निभाते हमें मोहब्बत सी हो गयी.

हम शिकायत किस्से करे दोनों तरफ दर्द का माहोल हे, हमारे आगे मोहब्बत हे और आपके आगे ज़माना हे.

मोहब्बत कि ज़ंज़ीर से डर लगता हे, कुछ अपनी तफलीक से डर लगता हे. जो मुझे तुजसे जुदा करते हे, हाथ कि वो लकीरो से डर लगता हे.(Dard Bhari Shayari)

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, shayari dard bhari, dard bhari shayari image download

ज़िन्दगी को तनहा वीराने में रहने दो, ये वफ़ा कि बाते खयालो में रहने दो, हकीकत में आज़माने से टूट जाते हे दिल, ये इश्क़ मोहब्बत किताबो में रहने दो.

रुलाना यहा सबको आता हे, हसाणा भी यहा सबको आता हे, रुला के कोई मनले वोही सक्चा दोस्त हे, और जो रुला के खुद भी रो पड़े वो सच्ची मोहब्बत हे.

Dard Bhari Shayari In Hindi
हर गली हर जगह दिया जलाना, हर बाग मे फूल खिलाना. इस दुनिया मे सब कुछ कर लेना, सिर्फ़ हम से मोहब्बत मत कर लेना.

दोस्तों उम्मीद करता हु आप सभी लोगो को Dard Bhari Shayari In Hindi (दर्द भरी शायरी हिन्दी) में बहुत ही ज्यादा बढ़िया लगा होगा Shayari Dard Bhari भी आप देख सकते है आप को बहुत ही सुन्दर लगेगी धन्यबाद

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button